• July 7, 2022 1:56 am

योजनाओं का लाभ लक्षित वर्ग तक पहुंचाने पर सरकार दे रही है विशेष ध्यान : राकेश पठानिया

ByEdit by Sanjeev

May 20, 2022
Spread the love
संजीव महाजन
नूरपुर

योजनाओं का लाभ लक्षित वर्ग तक पहुंचाने पर सरकार दे रही है विशेष ध्यान : राकेश पठानिया

कहा…..पहली बार गांव और गरीब के लिए अनेकों योजनाएं धरातल पर उतारी गईं

मिलख पंचायत में 20 लाख रुपए की लागत से निर्मित संपर्क सड़क का किया लोकार्पण

नूरपुर में  वन, युवा सेवाएं एवम खेल मंत्री राकेश पठानिया ने आज शुक्रवार को विधानसभा क्षेत्र की मिलख पंचायत(चौन्की) में  20 लाख रुपए की लागत से निर्मित घट्टा से क्योड़(ब्राह्मणा मोहल्ला) तक  सम्पर्क सड़क का लोकार्पण किया। इस मौके पर उन्होंने नौण, चोचडू तथा क्योड़ धारियाँ वार्डों में विभागीय अधिकारियों के साथ लोगों को  विकास कार्यों का लेखाजोखा प्रस्तुत किया तथा  समस्याओं को सुना।  इससे पहले वे सुल्याली पंचायत के बारडी तथा शेरवां  में भी लोगों से रूबरू हुए। उन्होंने इन पंचायतों में स्थानीय लोगों द्वारा रखी गई मांगों को शीघ्र पूरा करने का भरोसा दिया।
    उन्होंने कहा कि वर्तमान केंद्र व प्रदेश सरकार लोगों के जीवन स्तर को बेहतर बनाने के प्रति कृत संकल्प है।  समाज के गरीब, पिछड़े तथा वंचित वर्ग  के उत्थान हेतु अनेकों कल्याणकारी योजनाएं शुरू की गई हैं। पहली बार गांव और गरीब के लिए अनेकों योजनाएं लागू कर धरातल पर उतारी गई हैं।
  राकेश पठानिया ने बताया कि प्रदेश के हर परिवार को किसी ना किसी रूप से  केंद्र तथा प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं से सीधा लाभ पहुंचा है। उन्होंने कहा कि लोगों के जीवन स्तर को बेहतर बनाने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी तथा मुख्यमंत्री श्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में केंद्र तथा प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई कई महत्वाकांक्षी कल्याणकारी  योजनाओं से समाज के सभी वर्गों विशेषकर पिछड़े वर्ग के लोगों का जीवन स्तर बेहतर हुआ है।
    राकेश पठानिया ने कहा कि  पंचायती राज संस्थाओं के माध्यम से लोकतांत्रिक व्यवस्था को सुदृढ़ बनाया गया है।  उन्होंने कहा कि ग्रामीण स्तर पर विकास कार्य सीधे तौर पर पंचायतों द्वारा किये जाने से  प्रदेश के विकास को एक नई गति मिली है। उन्होंने मिलख तथा सुल्याली पंचायतों में हुए विकास कार्यों पर बोलते हुए कहा कि इन पंचायतों में सड़कों, रास्तों, पेयजल, बिजली सुधार,चेक डैम निर्माण पर करोड़ों रुपए व्यय किये जा रहे हैं।
      उन्होंने कहा कि किसानों को सम्मान प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना  से हर किसान को प्रतिवर्ष 6 हज़ार रुपये की राशि सीधे उनके खाते में भेजी जा रही है। उन्होंने कहा कि आर्थिक तंगी के कारण कई गरीब लोग अपना ईलाज करवाने से वंचित  रह जाते थे, परंतु आयुष्मान भारत तथा हिमकेयर योजनाओं के लागू होने से  गरीब लोगों को अपना ईलाज करवाने में काफी मदद मिल रही है।
मिलख पंचायत के नरेन्द्र शर्मा ने कहा कि हम  वन युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री मंत्री राकेश पठानिया का बहुत स्वागत करते हैं उनके द्वारा घाटा से कियोड ब्रहामण के लिए रास्ता बनाया है उसका उदधाटन किया गया हम उनका धन्यवाद करते हैं हमने मंत्री साहब दो तीन मांगे रखी है जो कि मिलख पंचायत में खेल का मैदान और मोक्षधाम और एक तालाब के लिए उन्होंने आश्वासन दिया है कि बहुत जल्द ही करवा दिव्य जाएगा। इन सब कामों के लिए हम मंत्री साहब का धन्यवाद करते हैं
नूरपुर 20 मई : वन, युवा सेवाएं एवम खेल मंत्री राकेश पठानिया ने आज शुक्रवार को विधानसभा क्षेत्र की मिलख पंचायत(चौन्की) में  20 लाख रुपए की लागत से निर्मित घट्टा से क्योड़(ब्राह्मणा मोहल्ला) तक  सम्पर्क सड़क का लोकार्पण किया। इस मौके पर उन्होंने नौण, चोचडू तथा क्योड़ धारियाँ वार्डों में विभागीय अधिकारियों के साथ लोगों को  विकास कार्यों का लेखाजोखा प्रस्तुत किया तथा  समस्याओं को सुना।  इससे पहले वे सुल्याली पंचायत के बारडी तथा शेरवां  में भी लोगों से रूबरू हुए। उन्होंने इन पंचायतों में स्थानीय लोगों द्वारा रखी गई मांगों को शीघ्र पूरा करने का भरोसा दिया।
    उन्होंने कहा कि वर्तमान केंद्र व प्रदेश सरकार लोगों के जीवन स्तर को बेहतर बनाने के प्रति कृत संकल्प है।  समाज के गरीब, पिछड़े तथा वंचित वर्ग  के उत्थान हेतु अनेकों कल्याणकारी योजनाएं शुरू की गई हैं। पहली बार गांव और गरीब के लिए अनेकों योजनाएं लागू कर धरातल पर उतारी गई हैं।
  राकेश पठानिया ने बताया कि प्रदेश के हर परिवार को किसी ना किसी रूप से  केंद्र तथा प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं से सीधा लाभ पहुंचा है। उन्होंने कहा कि लोगों के जीवन स्तर को बेहतर बनाने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी तथा मुख्यमंत्री श्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में केंद्र तथा प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई कई महत्वाकांक्षी कल्याणकारी  योजनाओं से समाज के सभी वर्गों विशेषकर पिछड़े वर्ग के लोगों का जीवन स्तर बेहतर हुआ है।
    राकेश पठानिया ने कहा कि  पंचायती राज संस्थाओं के माध्यम से लोकतांत्रिक व्यवस्था को सुदृढ़ बनाया गया है।  उन्होंने कहा कि ग्रामीण स्तर पर विकास कार्य सीधे तौर पर पंचायतों द्वारा किये जाने से  प्रदेश के विकास को एक नई गति मिली है। उन्होंने मिलख तथा सुल्याली पंचायतों में हुए विकास कार्यों पर बोलते हुए कहा कि इन पंचायतों में सड़कों, रास्तों, पेयजल, बिजली सुधार,चेक डैम निर्माण पर करोड़ों रुपए व्यय किये जा रहे हैं।
      उन्होंने कहा कि किसानों को सम्मान प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना  से हर किसान को प्रतिवर्ष 6 हज़ार रुपये की राशि सीधे उनके खाते में भेजी जा रही है। उन्होंने कहा कि आर्थिक तंगी के कारण कई गरीब लोग अपना ईलाज करवाने से वंचित  रह जाते थे, परंतु आयुष्मान भारत तथा हिमकेयर योजनाओं के लागू होने से  गरीब लोगों को अपना ईलाज करवाने में काफी मदद मिल रही है।