• May 15, 2021 1:52 am

जयराम कैबिनेट की बैठक आज, हिमाचल में लॉकडाउन पर हो सकता है फैसला

हिमाचल ब्यूरो

जयराम कैबिनेट की बैठक आज, हिमाचल में लॉकडाउन पर हो सकता है फैसला

शिमला : दीपक शर्मा/कोविड-19 के कारण हिमाचल प्रदेश में लगातार मृत्यु दर व कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढऩे के कारण राज्य सरकार लॉकडाऊन लगाने की दिशा में आगे बढ़ रही है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर इस विषय को लेकर बुधवार सुबह 9.30 बजे मंत्रिमंडल बैठक से पहले होटल पीटरहॉफ में नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री एवं अन्य विपक्षी नेताओं के साथ बैठक करेंगे।

इस बैठक का आयोजन पहले मंगलवार को होना था लेकिन खराब मौसम के कारण मुख्यमंत्री के हैलीकॉप्टर के कांगड़ा से शिमला के लिए उड़ान न भरने के कारण इसका आयोजन नहीं हो पाया, ऐसे में मुख्यमंत्री की गैर-मौजूदगी में संसदीय मामलों के मंत्री सुरेश भारद्वाज ने नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री, कांग्रेस विधायक आशा कुमारी, डॉ. धनीराम शांडिल एवं माकपा विधायक राकेश सिंघा के साथ पहले दौर की बैठक की।

 

सरकार ने विपक्ष को वस्तुस्थिति से अवगत करवाया

सरकार की तरफ से शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर एवं उच्च अधिकारियों ने भी बैठक में भाग लिया। सरकार की तरफ से प्रैजैंटेशन के माध्यम से विपक्ष को वस्तुस्थिति से अवगत करवाया गया। इसमें पिछले 1 माह की अवधि में कोरोना संक्रमण के कारण हुई मृत्यु एवं संक्रमितों की संख्या को सामने रखा गया। इसी तरह सरकार की तरफ से यह भी बताया गया कि वह कैसे बैड कैपेसिटी बढ़ाने, ऑक्सीजन और एम्बुलैंस की उपलब्धता सुनिश्चित करने के साथ अन्य तरह की तैयारियों को कर रही है। विपक्ष ने सरकार का पक्ष जानने के बाद हरसंभव सहायता का आश्वासन दिया, साथ ही यह भी कहा कि मुख्यमंत्री की तरफ से जो विषय चर्चा के लिए सामने रखा जाएगा, उसके अनुसार विपक्ष अपनी बात को सामने रखेगा।

 

विपक्ष की राय जानने के बाद सरकार लेगी अंतिम निर्णय

इससे पहले भाजपा विधायक दल के साथ अलग से बैठक में इन सभी विषयों को लेकर चर्चा हो चुकी है और अब विपक्ष की राय जानने के बाद सरकार की तरफ से मंत्रिमंडल की बैठक में लॉकडाऊन लगाने या बंदिशों को बढ़ाने पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा। बैठक में 10वीं कक्षा के साथ स्नातक प्रथम एवं द्वितीय वर्ष के छात्रों को प्रमोट करने तथा 12वीं कक्षा एवं स्नातक अंतिम वर्ष की परीक्षाएं करवाने सहित अन्य विषयों पर भी चर्चा होने की संभावना है।

 

एजैंडा सामने आने पर ही कोई बात कर पाएगा विपक्ष : मुकेश अग्निहोत्री

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की तरफ से बुधवार को होने वाली बैठक में जो एजैंडा सामने रखा जाएगा, उसके आधार पर ही विपक्ष कोई बात कर पाएगा। सुरेश भारद्वाज अध्यक्षता में हुई सर्वदलीय बैठक में सरकार की तरफ से की गई तैयारियों की जानकारी दी गई। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में प्रदेश में कोविड-19 के कारण मृत्यु दर एवं स्वस्थ होने की दर राष्ट्रीय दर से अधिक है जो चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि यह मानवता की लड़ाई है, जिसमें विपक्ष अपनी तरह से सरकार को हरसंभव सहयोग देगा। इससे पहले नेता प्रतिपक्ष की कांग्रेस के कुछ विधायकों के साथ अलग से बैठक भी हुई।

 

प्रैजैंटेशन के साथ विभिन्न विषयों पर हुई चर्चा : भारद्वाज

संसदीय मामलों के मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि विपक्ष के समक्ष प्रैजैंटेशन देने के अलावा विभिन्न विषयों पर चर्चा हुई है। इसके बाद अब मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के साथ विपक्ष के नेताओं की बुधवार को बैठक होगी। उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी से बढ़ौतरी हुई जिससे मृत्यु दर भी बढ़ी है। इसके लिए सरकार ने टास्क फोर्स के रूप में 4 अलग-अलग कमेटियों का गठन किया है। उन्होंने कहा कि दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल शिमला में डाक्टर व नर्सों ने कोरोना संक्रमित मरीजों के साथ नाच-गाकर तनाव दूर करने का प्रयास किया है। उन्होंने कहा कि सरकार का आगे भी यह प्रयास रहेगा कि मरीजों का मनोबल बढ़ाने के लिए मैडीकल एवं पैरामैडीकल स्टाफ आगे आए।

सबकी एक जैसी सहमति बने तो बेहतर : सिंघा

माकपा विधायक राकेश सिंघा ने कहा कि मौजूदा हालात में यदि पक्ष-विपक्ष सबकी एक जैसी सहमति बने तो बेहतर है। उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से उपलब्ध करवाए गए डाटा का मूल्यांकन करने के बाद वह अपना पक्ष रखेंगे। हालांकि उन्होंने यह जरूर कहा कि सरकार को बंदिशें लगाने से पहले सबसे निचले स्तर पर प्रभावित होने वाले व्यक्ति के बारे में सोचना चाहिए।

Leave a Reply