• December 5, 2021 11:10 am

उप-चुनाव 2021 के सफल संचालन के लिए 16 नोडल अधिकारियों की तैनाती की गई

उप-चुनाव 2021 के सफल संचालन के लिए 16 नोडल अधिकारियों की तैनाती की गई

निर्वाचन आयोग के आदेशानुरूप सुचारू व त्रुटिमुक्त चुनाव प्रक्रिया के संचालन के लिए जिला में उप-चुनाव 2021 के सफल संचालन के लिए 16 नोडल अधिकारियों की तैनाती की गई है।

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने आज इस संबंध में नियुक्त नोडल अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता करते हुए यह जानकारी दी।
उन्होंने बताया कि उपचुनाव में मतदान प्रतिश्तता बढ़ाने तथा निर्वाचन से संबंधित विभिन्न प्रक्रियाओं को बेहतर तालमेल से पूरा किया जाना आवश्यक है। उन्होनें बताया कि स्वतंत्र निष्पक्ष एवं पारदर्शी तरीके से चुनावों को संपन्न करवाने के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी के माध्यम से यह तंत्र विकसित किया गया है। नोडल अधिकारियों द्वारा समय समय पर किया जाने वाला कार्य अतयन्त महत्वपूर्ण है जिसे जिम्मदारी पूर्वक निभाएं।
उन्होंने बताया कि आदर्श चुनाव आचार संहित का अनुपालना के लिए अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी किरण भड़ाना को तैनात किया गया है, जो चुनाव आयोग के निर्देशानुरूप अधिकारियों, उम्मीदवारों, राजनीतिक दलों व मीडिया के मध्य आदर्श चुनाव आचार संहिता को सुनिश्चित करेगी।
अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी (प्रोटोकॉल) सचिन कंवल को चुनाव प्रक्रिया की निरंतरता बनाए रखने एवं सुचारू संचालन के लिए श्रम शक्ति प्रबंधन के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।
अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी (कानून एवं व्यवस्था) राहुल चौहान को ईवीएम प्रबंधन की जिम्मेदारी सौंपी गई है। ईवीएम के समुचित भण्डारण, सुरक्षा, उपलब्धता एवं जांच आदि तथा अन्य कार्य सुनिश्चित करेंगे।


क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी शिमला को चुनाव के दौरान परिवहन व्यवस्था के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।
जिला राजस्व अधिकारी को हेल्प लाईन और शिकायत निवारण का दायित्व सौंपा गया है। उन्होंने राजस्व अधिकारी को इस संबंध में अधीनस्थ कर्मचारियों को पर्याप्त प्रशिक्षण प्रदान करने के निर्देश दिए ताकि समय पर शिकायतों का निपटारा सुनिश्चित किया जा सके।
प्रशिक्षण प्रबंधन के लिए सहायक आयुक्त उपायुक्त डॉ. पूनम की तैनाती की गई है। उन्होंने कहा कि अधिकारी सभी कर्मचारियों के पर्याप्त प्रशिक्षण एवं क्षमता निर्माण को सुनिश्चित करेंगे। अधिकारी प्रशिक्षण सामग्री की उपलब्धता एवं वितरण का विशेष ख्याल रखेंगे। उन्होंने कहा कि आवश्यकता पड़ने पर राजनीतिक पार्टियों, उम्मीदवारों एवं एजेंटों को प्रशिक्षण सामग्री की उपलब्धता सुनिश्चित करवाएंगे। उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान कोविड-19 प्रोटोकॉल की अनुपालना सुनिश्चित करते हुए प्रशिक्षण बैचिज के आधार पर दिया जाएगा।
सामग्री प्रबंधन के लिए जिला खाद्य नागरिक उपभोक्ता मामले शिमला को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है, जिसके तहत सामग्री की उपलब्धता प्रबंधन एवं वितरण की जिम्मेदारी सुनिश्चित की गई।
चुनावी व्यय की निगरानी के लिए प्रबंध निदेशक हिमाचल प्रदेश राज्य सहकारी बैंक को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। अधिकारी उम्मीदवार के खर्चों पर नियंत्रण रखने के लिए कार्य करेगा।
उप-निदेशक पर्यटन विभाग को पर्यवेक्षक के साथ नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा सामान्य पर्यवेक्षक एवं व्यय पर्यवेक्षक की नियुक्ति चुनाव के दौरान की जाती है। उन्होंने बताया कि पर्यवेक्षक के आगमन, प्रस्थान तथा अन्य रहन-सहन प्रबंधन तथा अन्य प्रबंधों के लिए निरंतर सम्पर्क बनाए रखने का कार्य किया जाए।
कानून एवं व्यवस्था कायम करने के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहरी को तैनात किया गया है। सूचना एकत्र करने, संग्रहण और सम्प्रेषण के साथ-साथ जिला पुलिस के साथ समन्वय स्थापित करेगें।
पोस्टल बैलेट एवं ईडीसी के लिए जिला पंचायत अधिकारी की नोडल अधिकारी के रूप में नियुक्ति की गई। बैलेट पेपर/पोस्टल बैलेट/ईडीसी से संबंधित प्रकाशन, समय पर उपलब्धता के साथ भण्डारण एवं वितरण आदि संबंधित कार्यों का सघनता के साथ निर्वहन करेंगे।
मीडिया समन्वय के कार्यों के निवारण व प्रबंधन के लिए जिला लोक सम्पर्क अधिकारी को नोडल अधिकारी के तौर पर नियुक्त किया गया है। मीडिया को सूचना, निर्देश, प्रेस नोट प्रदान करने के साथ-साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस का प्रबंधन तथा जिला निर्वाचन अधिकारी को प्रतिदिन के आधार पर प्रेस कटिंग की उपलब्धता सुनिश्चित करना।
चुनाव से संबंधित कम्प्यूटराइजेशन कार्य तथा एसएमएस निगरानी और संचार कार्यों के लिए जिला कार्यक्रम अधिकारी एनआईसी को नियुक्त किया गया है।
कोविड-19 संबंधित प्रबंधों एवं कोविड-19 मानक संचालनों के अनुरूप कार्य करने के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी शिमला को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।
उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने सभी नोडल अधिकारियों को समन्वय स्थापित कर सहयोगात्मक रवैया अपनाते हुए उप-चुनावों के सफल संचालन के निर्देश दिए।
तहसीलदार निर्वाचन वेद शर्मा ने बैठक का संचालन किया तथा विविध गतिविधियों व बिन्दुओं पर संक्षिप्त जानकारी प्रदान की।
बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त किरण भड़ाना, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी (कानून एवं व्यवस्था) राहुल चौहान, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी (प्रोटोकॉल) सचिन कंवल, सहायक आयुक्त उपायुक्त डॉ. पूनम, जिला राजस्व अधिकारी संतराम, जिला पंचायत अधिकारी विजय बरागटा, खाद्य आपूर्ति अधिकारी श्रवण कुमार, उप महा-प्रबंधक सहकारी बैंक विशेषर शर्मा, जिला पर्यटन अधिकारी जीडी काल्टा तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमल वर्मा भी उपस्थित थे।

Leave a Reply